मूल्य और समर्थन प्राप्त करें

छत्‍तीसगढ़ी भाषा परिवार की लोक कथाऍं

छत्तीसगढ़ी गोंडी हलबी धुरवी परजी भतरी कमारी बैगानी बिरहोर भाषा की लोक कथाऍं लेखक – बलदाऊ राम साहू छत्तीसगढ़ी भाषा छत्तीसगढ़ प्रांत में बोली

अध्याय ४

या दूसरा भी अकड़कर बिना हाथ जोड़े निकल गया तो अभिमान का गुब्बारा सिकुड़ा। वह सब दूसरे पर निर्भर है। या दूसरा अगर ऐसा हुआ कि आपको ही हाथ जोड़ने पड़े तो

चिट्ठा चर्चा जुलाई 2008

धुन में रम्मी की बीडियाँ पी के मेरा बिस्तर जला दिए साले खेत की देखभाल तो छोडो बाड़ रहे सो जला दिए साले शकुन्तलायें आजकल अगूंठियां नहीं मोबाइल धारण करती

समालोचन वी एस नायपॉल आधा जीवन

नोबेल पुरस्कार से सम्मानित वी एस नायपॉल के महत्वपूर्ण उपन्यास ' आधा जीवन ' (Half a Life) का तीसरा और अंतिम भाग प्रस्तुत है इसका अनुवाद जय कौशल ने किया है यह

indian ayurveda December 2013

लौंग को या तो आप मुंह में रख सकते हैा या धीरे-धीरे चबा सकते हैं या लौंग के तेल से मसूड़ों पर मालिश कर सकते हैं। यह एक प्राचीन पद्धति है और बेहद आसान घरेलू

आखरमाला – बालकहानी

उन दिनों नया हो या पुराना हर कथक्कड़ एक ही बात कहता थाᅳ'कहानियों में कहानी नील तारे की जिसने यह न सुनी उसने क्या सुना!' श्रोताओं में भी नील तारे की

Samaadhan February 2017

मेरा मानना है कि रानी लक्ष्मीबाई हों या रानी चेन्नमा चन्द्रशेखर आजाद हों या भगत सिंह अशफाक उल्ला खां हों या बहादुर शाह जफर जवाहर लाल नेहरू हों या

online hindi news agency

जल प्रदुषण की समस्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। पृथ्वी का दो तिहाई भाग जल होते हुए भी इसमें से मानव के उपभोग योग्य जल ही मात्रा कम है। प्रकृति से प्राप्त

THE HINDU BLOG

क्‍या सरकार को सबकी भलाई के लिए पैसा खर्च करना चाहिए या किसी एक समुदाय विशेष के उत्थान के लिए। आखिर ९० मुस्लिम बहुल जिले चिन्हित कर उनमें मुस्लिमों की

LOKVIMARSH (लोकविमर्श) December 2014

तो काहे का मैं- पर महेश चन्द्र पुनेठा "लोकधर्मिता न गाँव के दृश्य या घटानाओं को कविता में लाना भर है न पेड़-पत्ती-फूल

मुहावरे

मुहावरे (Idioms) ऐसे वाक्यांश जो सामान्य अर्थ का बोध न कराकर किसी विलक्षण अर्थ की प्रतीति कराये मुहावरा कहलाता है।

dalitrefugees खाद्य महंगाई दर ने लगाई छलांग 11 43%

खाद्य महंगाई दर ने लगाई छलांग 11 43% पर पहुंची!राडिया ने छोड़ा पीआर टाटा का रेडिफ्यूजन को ओके!अगस्त 2012 तक 23 000 तक पहुंच सकता है सेंसे

searchoftruth सत्यकीखोज June 2015

खुदा शब्द मन या अहम भाव के लिये है । यह अभिमान या मन वासनाओं से सम्बन्धित है । इससे अहंकार बढने के अतिरिक्त कुछ नहीं होता । न इसका ऊपर

व्योम के पार

चल वे चट्टे भर लौट्टे पी पी भंग उड़ाएँ सोट्टे जीव–जंतुओं के माध्यम से संबंधों की जानकारी देता हुआ यह बालगीत–

व्योम के पार

चल वे चट्टे भर लौट्टे पी पी भंग उड़ाएँ सोट्टे जीव–जंतुओं के माध्यम से संबंधों की जानकारी देता हुआ यह बालगीत–

LOKVIMARSH (लोकविमर्श) December 2014

तो काहे का मैं- पर महेश चन्द्र पुनेठा "लोकधर्मिता न गाँव के दृश्य या घटानाओं को कविता में लाना भर है न पेड़-पत्ती-फूल

पद्मावत मलिक मुहम्मद जायसी

पद्मावत मलिक मुहम्मद जायसी 37 रत्नसेन-संतति-खंड जाएउ नागमति नागसेनहि । ऊँच भाग ऊँचै दिन रैनहि ॥ कँवलसेन पदमावति जाएउ । जानहुँ चंद धरति मइँ आएउ ॥ पंडित

Farm Folio May 2015

Farm Folio are consultants in generation next Agriculture Solutions Provides all agro related solutions under one umbrella and undertake modules amp projects on turnkey basis Deals in manufacturing and supplying Green houses Planting materials Seeds Irrigation solutions Agronomy supports Organic Farming Pre and post crop management and finally providing marketing solutions for the

ओशो सत्‍संग/ OSHO SATSANG गीता दर्शन

जोगी तु क्यों आया मेरे द्वारा। तेरी आंखों में नहीं दिखता सपनों का अब वो संसार। जोगी तु क्यों आया मेरे द्वार

के बारे में समाचार कोल्हू पी प्रयुक्त या नया

कोल्हू प्रति घंटे 150 टन

कोल्हू डिजाइन और मिलिंग मशीन

कोल्हू विभिन्न मॉडल और आंकड़ा

कोल्हू मशीन पेज 10 का

कोल्हू की कीमत और कीमत

कोल्हू और कोल्हू उपकरण आवेदन

कोल्हू और संगमरमर चक्की कोल्हू है

कोल्हू 50 टन सोना

क्रशर पीस मिल आपूर्तिकर्ता में

प्रयोगशाला के लिए कोल्हू के लिए कोल्हू

संत पियर्स में कोल्हू और

दुनिया में कोल्हू ब्रांड

भारत में कोल्हू निर्माता मूल्य

नेपाल में जगह बेच रहा कोल्हू

कोल्हू समग्र आयाम भारत कोल्हू

क्रेशर इन निगरिया बनाम हम

बिक्री के लिए कोल्हू पत्थर क्रशर

कोल्हू गीला गेंद मिल बिक्री

चारों ओर स्थित कोल्हू निर्माता

पत्थर तोड़ने की मशीन के लिए कोल्हू