मूल्य और समर्थन प्राप्त करें

Jain Acharya

अरिहंत प्रभु की श्वांस सुगंधित होती है । वे हरेक को धर्म से जोड़ते हैं वृक्ष को पत्थर मारो फिर भी वह फल देता है । पशु पक्षियों को मारा

लहरें 2012

वे रातों को पीर की मजार पर राजकुमारी के आंसुओं की नदी बहती रखने की मन्नत बाँधने जातीं थीआते और जाते हुए वे अपने बिछड़े हुए मायके के गीत गाया करतींये ग�

2017

Dec 31 2017समन्दर की गहराई में भी खिंचाव था ('जिन खोजा तिन पाईयाँ' मुझे सिखाया गया है) और उतरना समन्दर में चट्टानों की बनी हुई सीढ़ियों से

KWIC (UTF

को घर में रखना न चाहिये था।' 40703 test‏ htm इसी में है कि जैसे झुनिया को घर में रखा था वैसे ही घर से 40704 test‏ htm काट ले। होरी ने इस कुलटा को

** ज्वालामुखी **

Jun 29 2015मुंबई में इंडियन नेवी के नेवल डॉकयार्ड ने COVID -19 के प्रसार को सीमित करने के लिए बोली में कर्मियों की स्क्रीनिंग के लिए अपनी स्वयं की

सपने जो सोने नहीं देते 2010

हाथ में चुभी फाँस को साल दर साल कई घर बनाता किसी की याद में भविष्य की कल्पना में या अतीत के किसी सपने का दबी दबी ज़ुबां में

तिरुपति बालाजीबौद्ध मंदिर था – Mooknayak

May 01 2017में ब्राह्मण धर्म के पुनरुद्धार डेक्कन चालुक्य जो बादामी उनकी सरकार की सीट पर कि विश्वास की चट्टानों को काट धार्मिक स्थलों का

इस्लाम के $ENNUM स्तंभों के पांच

इस पुस्तक नामक पाँच स्तंभों की आधारशिला सही- इस्लाम के संबंध में 5 कुरान की आयतों' प्रशीक्षण कारणों पै गंबर मुहम्मद अल्लाह के विश् वास को इस्लाम धर्म

इस्लाम के $ENNUM स्तंभों के पांच

इस पुस्तक नामक पाँच स्तंभों की आधारशिला सही- इस्लाम के संबंध में 5 कुरान की आयतों' प्रशीक्षण कारणों पै गंबर मुहम्मद अल्लाह के विश् वास को इस्लाम धर्म

जयहिंदी 07/09

अरावली पर्वतमाला की गिनती विश्व के प्राचीनतम पर्वतों में होती है। दिल्ली से आरंभ होकर यह पर्वतमाला राजस्थान में से गुजरती हुई ठेठ गुजरात तक चली गई है

विक्षनरी हिन्दी

टांका — हाथ की सिलाई में धागे आदि की वह सीवन जो एक बार सूई को एक स्थान से गड़ाकर दूसरे स्थान पर निकालने से बनती है (स्टिच) — टेब

गोदान भाग 7 – हिंदी पटल – हिन्दी की उत्कृष्ट रचनाएँ

' स्वस्ती श्री सवोर्पमा जोग श्री होरी महतो को गौरीराम का राम-राम बाँचना। आगे जो हम लोगों में दहेज की बातचीत हुई थी उस पर हमने शान्त

गोदान मुंशी प्रेम चंद

गोदान मुंशी प्रेम चंद 24 सोना सत्रहवें साल में थी और इस साल उसका विवाह करना आवश्यक था। होरी तो दो साल से इसी फ़िक्र में था पर हाथ ख़ाली होने से कोई क़ाबू न

पाँच लिंकों का आनन्द 941हम क़दम का पाँचवां क़दम

निसृत मौन चट्टानों के तृष्णा को सबकी पल में मिटाती है नदिया चार महीनों से मध्य हिमालय की सुदूरतम घाटियों की धूल छानते भटक रहे थे

Hindi News May 2015

मध्यप्रदेश के विशेष सन्दर्भ में रबी 2015 में ओला वृष्टि की क्षति के लिये ऋण स्थगित करने की प्रक्रिया को नाबार्ड ने परिवर्तित कर दिया

September 2011 – पहली बार

जे एन यू से ही 'भूरी भूरी खाक धूल (काव्य संग्रह) में मुक्तिबोध की युग चेतना' विषय पर इन्होने १९९८ में एम फिल और २०११ में 'समकालीन हिंदी कविता में

मेरी अभिव्यक्तियाँ 2017

कछारों में चंचलता की उन उन्मुक्त धाराओं को रेगिस्तानी ताप में सुखाना नही चाहती अच्छा है अपने स्वर्णिम खज़ाने को खुद में छुपाए

searchoftruth सत्यकीखोज May 2011

अगर मैं आपको आत्मा की आवाज और दिल का दर्द बताऊँ । तो वो वही है कि अधिक से अधिक जीवों को काल के पंजे से छुङाना । क्योंकि किसी भी सन्त का यही खास काम और

hindisahityasimanchal files wordpress

1 वह जगह जा रही है लहर पीछे छूटता जाता है पानी लहर में पानी नहीं कुछ और है जो जा रहा है शब्द में टिकती नहीं कविता न कविता में समाता अर्थ थमता नहीं है संगीत

पाँच लिंकों का आनन्द 941हम क़दम का पाँचवां क़दम

निसृत मौन चट्टानों के तृष्णा को सबकी पल में मिटाती है नदिया चार महीनों से मध्य हिमालय की सुदूरतम घाटियों की धूल छानते भटक रहे थे

मेरे ब्लॉग्स

कोरोना के कर्मवीरों को किया सलाम - कोरोना वायरस की इस आपदा में आज सारे राष्ट्र ने एक साथ उन कर्मवीरों को सलाम किया जो अपनी जान की

गद्य साहित्य परंपरा का प्रवर्तन प्रथम उत्थान / आधुनिक

1 भारतेंदु हरिश्चंद्र इनका जन्म काशी के एक संपन्न वैश्यकुल में भाद्र शुक्ल 5 संवत् 1907 को और मृत्यु 35 वर्ष की अवस्था में माघ कृष्ण 6 संवत् 1941 को हुई।

दुर्गादास मुंशी प्रेम चंद

दुर्गादास मुंशी प्रेम चंद अध्याय-1 जोधपुर के महाराज जसवन्तसिंह की सेना में आशकरण नाम के एक राजपूत सेनापति थे बड़े सच्चे वीर शीलवान् और परमार्थी

Poem's and Poettry गोपालदास नीरज

Oct 27 2015धूल में सिंदूर फूल का छिपा मरघटों को खेत की खुशबू सुँघाओं उस आँख से आखें मिलाना धर्म है।

Applaud India Largest democracyIndia rising भारत की सराहना

Applaud India highlights India's achievements India's strengths e g India as Asian Superpower Emergent World Economy India with high GDP growth and increasing purchasing power India's Economic Transformation India as the World's IT leader India as a MedicalTourismHub Indian economy growth at 7 % Indian Economic Reforms Indian Agricultural growth target at 4% India to

लहरें 2012

आँखों में कोई कल रात छुपा था आज सुबह रकीब की लाश मिली हैकसक कोई पानी में घुली है कि दुपट्टे को निचोड़ा है तो कितना सारा दुःख गीले छत

मेरी अभिव्यक्तियाँ 2017

कछारों में चंचलता की उन उन्मुक्त धाराओं को रेगिस्तानी ताप में सुखाना नही चाहती अच्छा है अपने स्वर्णिम खज़ाने को खुद में छुपाए

के बारे में समाचार क्रेशरों की चट्टानों को धूल में मिलाना

धातु आपूर्तिकर्ता के लिए कोल्हू मशीन

कोल्हू अलग को कुचलने के लिए

कोल्हू एक दिन करना चाहते हैं

कोल्हू एक तरह का खनन है

पाकिस्तान के रेत में बना क्रशर

कोल्हू हथौड़ा कोल्हू हिस्सा हथौड़ा

सूडान में कोल्हू बिक्री बिक्री

बिक्री के लिए पटरियों पर क्रशर

कोल्हू मूल्य आपूर्तिकर्ताओं शंकु कोल्हू

कोल्हू पत्थर प्रभाव कोल्हू

कोल्हू डिजाइन कोल्हू संयंत्र 100

बिक्री के लिए कोल्हू पोर्टेबल आपूर्तिकर्ता है

में क्रशिंग मिमी के लिए कोल्हू

कोल्हू उद्योग इन्द्रप्रदेश में

कोल्हू चयन और प्रदर्शन का प्रदर्शन

मिमी आकार के उत्पादन के लिए कोल्हू

बिक्री इथियोपिया के लिए कोल्हू मशीन

कोल्हू निर्माता सबसे अच्छी कीमत के साथ

पत्थर संयंत्र सामग्री के लिए कोल्हू

कोल्हू पत्थर प्रसंस्करण डिजाइन का इस्तेमाल किया