मूल्य और समर्थन प्राप्त करें

विक्षनरी हिन्दी

संज्ञा पुं० [हिं० अंध + ओट] कोल्हू में चलनेवाले बैल की आखों का ढक्कन। अँधियारी। ढोका। ⋙ धौँताल वि० [हिं० धनु + ताल] १ जिसे किसी बात की

जिंदगी की राहें शुभकामनायें

आने वाला वर्ष किसी के दामन में इतना दर्द न दे जितना जाता वर्ष दे गया हैं (कितना छोटा सा जीवन हैं जिसे जी रहे हैं हम । ओर इसी पर इतराते हैं हम ना जाने क्या क्

hindisahityasimanchal files wordpress

इस भाग में यह ग्रन्थावली का आठवाँ और अन्तिम भाग है। इस भाग को 'सृजन के विविध आयाम' नाम से अभिहित किया गया है। इस भाग में आ शुक्ल लिखित कई तरह की सामग्री के �

MahatvapUrN MuhAvarE

अंग-अंग टूटना-(सारे बदन में दर्द होना)-इस ज्वर ने तो मेरा अंग-अंग तोड़कर रख दिया। 4 अंग-अंग ढीला होना-(बहुत थक जाना)- तुम्हारे साथ कल चलूँगा। आज तो मेरा अंग-अ�

संस्मरण लेखन पुरस्कार आयोजन

में सन्समरण एवं अनुभव वेब मासिक में जुलाई 2017 में बेबसी कहानी साहित्य सुधा में लेख रचनाकार लघु कथा एवं यथावत पाक्षिक 1 से 15 अक्टूबर 2017

काव्य संसार दिसंबर 2013

31 12 2013आदमी फंस जाता है जब गृहस्थी के जाल में बैल कोल्हू की तरह कटती बिचारी जिंदगी फंसता है वो चिंताओं के जाल में कुछ इसतरह बाल उड़ते और सर पर चाँद है आता उतर �

Kapil Chandak

किस्से-कहानियों गुजरे ज़मानों की मीठी यादों लकी अली और म्यूजिक से सुपरहीरो और कॉमिक्स के रोमांच से बचपने और लड़कपन से भरपूर ब्लॉग Unknown noreplyblogger Blogger 25 1 25 tag

ब्लॉग बुलेटिन मई 2016

31 05 2016भारतीय परमाणु आयोग ने पोखरण में अपना पहला भूमिगत परिक्षण १८ मई १९७४ को किया था। हलाकि उस समय भारत सरकार ने घोषणा की थी कि भारत का परमाणु कार्यक्रम

बाल्साहित्य – बालकहानी

रेत पर केवल मेरे पैरों के निशान थे मन हुआ कि वापस लौट चलूं लेकिन कहानी? पिछले कई दिनों से मैं नई कहानी की खोज में था अब परिस्थितियां बन रहीं हैं इसलिए मै�

बाल्साहित्य – बालकहानी

रेत पर केवल मेरे पैरों के निशान थे मन हुआ कि वापस लौट चलूं लेकिन कहानी? पिछले कई दिनों से मैं नई कहानी की खोज में था अब परिस्थितियां बन रहीं हैं इसलिए मै�

Blogger

भारतीय संस्कृति व सनातन धर्म में पितृ ऋण से मुक्त होने के लिए अपने माता-पिता व परिवार के मृतकों के नियमित श्राद्ध करने की अनिवार्यता प्रतिपादित की गई

सुधा राजे

इसीलिये बहुत ठंडे प्रदेशों में भारतीय महिलायें साङी नहीं पहिनतीं न कश्मीर न हिमाचल प्रदेश न गढ़वाल न कुमाऊ और न ही लद्दाख में । बेहद गर्म प्रदेशों म

मो सम कौन कुटिल खल कामी ? 2012

छोटे बाबू पगार पर ले लेना लेकिन अभी एक हजार रुपया दे दो। बच्चे की ट्यूशन की फ़ीस देनी है। सरकारी स्कूल में फ़ीस कम है तो बिना ट्यूशन

yaduwansh blogspot

मैं समाज से पूछता हूं आप लोगों में से कोई भी बताये इन्हें इसके बदले क्या मिला। थोड़ा सा अनाज बाढ़ी के टुकड़े मात्र हमारे प्रांत में

pure hindi for govt jobs exams and students for class

Hindi for govt exams and students for class anek sabdo ke ek sabd paryavachi sabd synonyms vilom sabd antonums anekarthi sabd anek sabdo ke liye ek sabd one word substitution upsarg prefix pratyaya samas noune gender numbers karak adjective kriya verb vriti mood paksha aspect pad vichar parsing vakya sentence viram chinha punctuation muhavare avam lokoktiyan idioms and

मुहावरे और लोकोक्तियाँ

कोल्हू का बैल-(निरंतर काम में लगे रहना)-कोल्हू का बैल बनकर भी लोग आज भरपेट भोजन नहीं पा सकते।

indore lekhika sangh इन्दोर लेखिका संघ इंदोर

महिला रचनाकारों के लिए है |कृपया अपनी मौलिक रचनाएँ अथवा साहित्य की अच्छी रचनाएँ जो आप मित्रों से साझा करना चाहते हैं वे भी भेज सकते है |साहित्य की

SPANDAN 2010

व्यक्ति चाहे हल चलायें बुआई करें फसल काटें कोल्हू में तेल पेरंे या चक्की पीसें इन क्षणों में उसकी तन्मयता के लिए गीत सहायक होते हैं। स्वरलहरी में

हिन्दी

1947 में अखिल भारतीय साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष रूप में उन्होंने पहले से छपे भाषण को बोलने से मना कर दिया एवं जो भाषण दिया वह

विक्षनरी हिन्दी

कोल्हू के बीच में जडे़ हुए लकडी़ के वे छोटे छोटे टुकडे जो गन्ने के टुकडे़ को दबाने में जाठ के सहायक होते हैं। जाठ और पाँचर के बीच में दबने से ही गन्ने के ट�

CISHINDI2013

11 कोल्हू का बैल-(निरंतर काम में लगे रहना)-कोल्हू का बैल बनकर भी लोग आज भरपेट भोजन नहीं पा सकते। 12 खाक छानना-(दर-दर भटकना)-खाक छानने से तो

वर्धा हिंदी शब्दकोश कोश

कोल्हू में पेरने के लिए काटे गए गन्ने के छोटे टुकड़े 3 किसी चीज़ का छोटा टुकड़ा। गँदला [वि ] 1 (पानी) जो स्वच्छ न हो दूषित 2 गंदा मैला 3 जिसमें धूल-मिट्टी मिल

The famous Jat people [Archive]

19 04 2017The Jat caste has produced a number of heroic persons who have put their life and families at risk and kept the pride and values like truth freedom equality loyalty etc intact They struggled for the cause of the common people and their upliftment Here is list of such famous Jat people Baldev Ram Mirdha Bhim Singh Dahiya Captain Bhagwan Singh Captain Dilip Singh Ahalawat Chaudhari Charan

के बारे में समाचार कोल्हू में भारतीय रुपया रेत

कोल्हू और चक्की में इस्तेमाल किया

खनन के लिए कोल्हू की चक्की मशीन

यूरोप में कोल्हू का पौधा

चीन भारत में कोल्हू भागों

केनेया में कोल्हू पत्थर की कीमत

बिक्री के लिए कोल्हू मोबाइल संयंत्र

कोल्हू रॉक कोल्हू कोल्हू मशीनरी है

कोल्हू हथौड़ा चक्की चीन भारत

कोल्हू भूमिगत धातु में उपयोग किया जाता है

कोल्हू निर्माता जबड़े कोल्हू आपूर्तिकर्ताओं

चीन में टंगस्टन के लिए कोल्हू

कोल्हू संयंत्र की कीमत और सभी

चीन आपूर्तिकर्ता से कोल्हू संयंत्र

जर्मनी में कोल्हू कंपनी

कोल्हू 600 x 400

नवीनतम विनिर्माण का उपयोग कर कोल्हू

दक्षिण अफ्रीका में कोल्हू एनीमेशन

कोल्हू संयंत्र परियोजना रिपोर्ट और

कोल्हू चलाए ऐकेन में बजरी

कोल्हू मशीनों चीन में बनाती है