मूल्य और समर्थन प्राप्त करें

Hindi Net Jrf Kahaniyan part 2

कोल्हू के बैल की तरह खट कर सारी उम्र काट दी इसके यहाँ कभी एक पैसे की जलेबी भी ला कर दी है उसके खसम ने! पाट का दाम भगत के यहाँ से ले कर बाहर-ही-बाहर बैल-हटटा

कश्यप की कलम से KASHYAP KI KALAM SE मार्च 2015

मीडिया से जुड़े बन्धुओं सादर नमस्कार ! यदि आपको मेरी कोई भी लिखित सामग्री लेख अथवा जानकारी पसन्द आती है और आप उसे अपने समाचार पत्र पत्रिका टी वी

अगर शादी

वह एम ए में पढ़ती थी दीपा योग्य चतुर सुजान और फैशन में डूबी हुई एक दक्ष लड़की थी उसकी योग्यता का आलम यह था कि वह चुटुर-पुटुर संसार के हर विषय के बारे में �

मेरे ईमेल के साथ पैसे कमाने – Marketing Online Life

Tag मेरे ईमेल के साथ पैसे कमाने Posted on September 3 2019 ईमेल विपणन ईमेल विपणन ईमेल विपणन | ईमेल विपणन संपर्क हमारे ब्लॉग सहायता करें मुख्य कुलानुशासक सरल अभी तक उन्�

जीवन में साहित्य का महत्व प्रेमचंद

कितने तो शहरों में तंबू लगाए और उखाड़े कितने लोगों की सोहबत मिली एक से एक नायाब और नापाम तजुर्बे हुए। पर दाद देनी पड़ेगी उनकी सादगी की कि कभी जीवन-जगत

लिंग

2019-09-29Gender Ling in Hindi जिस संज्ञा शब्द से व्यक्ति की जाति का पता चलता है उसे लिंग कहते हैं। Hindi में Ling निर्णय करने की विधि एवं प्रकार।

माहरा हरयाणा ( हरयाणवी कविताये रचनाये गीत [Archive

2012-11-04में कोशिश करूँगा के आपको हरयाणवी भाषा म कुछ नया पढ़ने को मिले हो सकता ह कॉपी पेस्ट भी हो त उसके लिए पुचड वाले बाबा जी से आशिरवाद की कामना करता हूँ आप सभी

एक शाम मेरे नाम April 2008

शब-ए- फ़िराक2 क्योंकि 'जिंदगी भर कोल्हू में जुते रहने के बाद अब बचा-खुचा समय तो सीताराम-सुमिरन में लगे।' सबसे छोटी नौ वर्ष की गौरी उर्फ झल्ली थी। उसके ऊ�

देशनामा September 2010

कॉमनवेल्थ से संचार मंत्री ए कोल्हू के बैल की तरह काम पर लगे रहता हैधीमी आवाज़ में बात करता हैकोई उसकी नहीं सुनताकोई साथी काम नहीं करता तो उसके हिस्

असगर वजाहत — साहित्य गंगा

उ न्होंने मेज़ पर एक ज़ोरदार घूंसा मारा और मेज़ बहुत देर तक हिलती रही। 'मैं कहता हूं जब तक ऐट ए टाइम पांच सौ लोगों को गोली से नहीं उड़ा दिया जायेगा हालात

राकेश तिवारी की कहानी 'मुचि गई लड़कियां'

राकेश तिवारी को मैं एक अच्छे पत्रकार लेखक के रूप में जानता पढता रहा हूँ लेकिन उनकी यह कहानी कुछ अलग ही है कुमाऊँ का परिवेश किस्सागोई और मुचि गई

छत्‍तीसगढ़ी भाषा परिवार की लोक कथाऍं

2019-07-23इसे जल्दी तौलो और मुझे पैसे दे दोे।" सुनार ने फलों को शीघ्र ही तौला और रुपयों की गड्डी उसे थमा दी। घर आकर सुखराम ने अपनी पत्नी सुखिया को सारी बातें बता दी

केक / असगर वज़ाहत

उन्होंने मेज़ पर एक ज़ोरदार घूँसा मारा और मेज़ बहुत देर तक हिलती रही। 'मैं कहता हूं जब तक ऐट ए टाइम पाँच सौ लोगों को गोली से नहीं उड़ा दिया जायेगा हालात

मेरा सरोकार 2010

ये मेरा सरोकार है इस समाज देश और विश्व के साथ जब भी और जहाँ भी ये अनुभव होता है कि इसको तो सबसे बांटने और पूछने का विषय है सब में बाँट लेने से कुछ और ही

शिवपुरी में दिया गया व्याख्यान

अब ज़रा अंदाज़ा लगाइए की आपके टेक्स के दिए पैसे के 90 प्रतिशत पैसे की लूट हो रही है ये सीधा सा मतलब है और हम टेक्स का कितना पैसा देते है केन्द्र सरकार को 6 5

असगर वजाहत — साहित्य गंगा

असगर वजाहत ने एम ए (हिंदी) और पीएच डी अलिगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी से की। डॉक्टरेट के बाद का शोधकार्य जवाहरलाल नेहरू यूनीवर्सिटी से किया लेखन का आरंभ १९�

सूफ़ियाना

सूफ़ियाना-कलाम (भाग-4) नज़ीर अकबराबादी 46 आदमी नामा दुनिया में पादशह है सो है वह भी आदमी और मुफ़्लिसो-गदा है सो है वह भी आदमी ज़रदार बे-नवा है सो है वह भी

व्यंग्य संग्रह

आज की पीढ़ी को कोल्हू के बैल की कथा सुनाने व् महसूस कराने में शायद हम कामयाब न हों मगर हमने अपनी आखों से कोल्हू के बैल को 'तिल की घानी' में घूमते हुए देखा

Digital Team Author at Saras Salil

भारत एक कृषि प्रधान देश होने के बावजूद यहां खेती और किसान दोनों की ही हालत दिनोंदिन बिगड़ती जा रही है

कश्यप की कलम से KASHYAP KI KALAM SE मार्च 2015

मीडिया से जुड़े बन्धुओं सादर नमस्कार ! यदि आपको मेरी कोई भी लिखित सामग्री लेख अथवा जानकारी पसन्द आती है और आप उसे अपने समाचार पत्र पत्रिका टी वी

ओशो गंगा/ Osho Ganga सत्य की पहली किरण

और अगर कभी कोई खयाल दिलाने आ जाए तो कोल्हू का मालिक कहता हैः आपके हाथ जोड़ते हैं आप यहां से जाइए। आपकी बातें अगर बैल ने सुन ली तो बड़ी मुश्किल हो जाएगी! इस

1st PUC

2019-11-22में लखनऊ के एक प्रतिष्टित वैश्य परिवार में हुआ था। आपने 1929 में एम ए 1941 में पीएच डी और 1946 में डी लिट् की उपाधि प्राप्त कर ली। अग्रवाल जी ने पाली संस्कृत

कहानी समकालीनः एकबार फिर

"आप अंदर जा सकती हैं" चपरासी की आवाज़ सुनकर शालिनी की तंद्रा टूटी। नेमप्लेट पर "प्राचार्या शारदा देवी" लिखा देख कर वह अतीत में खो गई थी। वह धीरे से उठी

के बारे में समाचार कोल्हू कितने पैसे ए

कोल्हू में भारत कोयला रूसी

कोल्हू प्राथमिक कोल्हू पत्थर कोल्हू है

क्रशर और डामर प्लांट में

लाइन खान पत्थर के लिए कोल्हू

भारत में क्रशर मूल्य सूची

कोल्हू के लिए कोल्हू का पौधा लगाया

कोल्हू उत्पादों जबड़े कोल्हू कुचल

कोल्हू बिक्री के लिए 3 फुट है

कोल्हू संयंत्र पोर्टेबल कुचल संयंत्र

छोटे पैमाने पर खनन के लिए कोल्हू

महाराष्ट्र सरकार के अनुसार कोल्हू

सड़क निर्माण कंक्रीट के लिए कोल्हू

चीन में बने कोल्हू के पौधे

कोल्हू निर्माता भारत में रेत

कोल्हू मर्क अक्स प्रकार aps

कोल्हू बाल्टी बिक्री के लिए कोल्हू है

कोल्हू और प्रभाव कोल्हू में

कोल्हू खनन कोयला कोल्हू पत्थर

अच्छा सील दरवाजे पर कोल्हू

कोल्हू चीन हाइड्रोलिक शंकु कोल्हू